D-Mart ke malik kaun hain | D-Mart ki safalta ki kahani

जब से इंटरनेट का चलन बढ़ा है तब से हर चीज़ डिजिटल होती जा रही है बैंक डिजिटल हो गए जिससे बैंकिंग के सारे काम डिजिटल होने लगे वैसे ही शॉपिंग का तरीका भी बदल गया है आज आपको कुछ भी चाहिए सब कुछ ऑनलाइन उपलब्ध है आपको कहीं जाने की ज़रूरत नहीं अपने घर बैठे आप आसानी से अपनी मन पसंद चीज़ आर्डर कर सकते हैं जो एक तय समय तक आपके पास आ जाएगी मगर आज भी इस डिजिटल दौर में ऐसे लोग आपको मिल जायेंगे जो बाजार जा कर अपने ज़रूरत के सामान की खरीदी करते हैं उन्हें ऑनलाइन शॉपिंग के वो मज़ा नहीं आता जो ऑफलाइन शॉपिंग में है उनके लिए ही D-Mart जैसे स्टोर्स एक बेहतरीन जगह है जहाँ वो जाते हैं सामान जो उन्हें चाइये उसे देखकर अपने हाथो से मेहसूस कर के खरीदते हैं अब सवाल ये आता है की D-Mart कहाँ की कंपनी है और इसके मालिक का क्या नाम है आज हम इस आर्टिकल में जानेगे D-Mart से जुडी हर बात

कौन हैं D-Mart के मालिक 

अगर आप शेयर मार्केट में ज़रा सा भी रूचि रखते हैं तो एक नाम अपने ज़रूर सुना होगा राकेश झुनझुनवाला  का देश के जाने माने निवेशक हैं ये अब आपको ये जानकर शायद और हैरानी हो की राकेश झुनझुनवाला को शेयर मार्केट के बारीकियां सीखने वाले का नाम राधाकिशन दमानी है 

राधाकिशन दमानी ही है D-Mart के मालिक इन्होने ने साल 2002 में मुंबई के पवई इलाके में अपने पहले स्टोर का उद्घाटन किया था इनका इरादा साफ था की डिमॉर्ट को धीरे धीरे देश के कोने  कोने तक पहुंचना है जिसके लिए वो लगातार काम करते रहे जिसका नतीजा ये हुआ की साल 2010 में D-Mart के 25 नए स्टोर खुल गए इसके बाद डिमॉर्ट और राधाकिशन ने नए नए आयाम तय किये और साल 2017 में कंपनी सार्वजनिक हो गई 

राधाकिशन दमानी की ज़िन्दगी

एक सामान्य मारवाड़ी परिवार में राधाकिशन दमानी का जन्म 1 जनवरी 1954 के दिन में हुआ उनके पिता का नाम शिवकिशन जी दमानी है जोकि खुद भी एक निवेशक थे शेयर मार्केट में राधाकिशन मुंबई यूनिवर्सिटी से बीकॉम की पढाई कर रहे थे मगर पहले साल में ही उन्होंने अपनी पढाई छोड़ दी और खुद का कारोबार करने लगे

कैसे शुरू की राधाकिशन ने अपनी कंपनी

राधाकिशन ने पिता की मृत्यु के बाद खुद का काम करने की सोची बॉल बेरिंग का काम वो पहले से कर रहे थे मगर उनका ये काम सही तरीके से चल नहीं रहा था उसके बाद उन्होंने पाने बड़े भाई के सलाह पर शेयर मार्केट में काम करना शुरू कर दिया एक ब्रोकर के तौर पर काम ठीक चल रहा था मगर उनको संतुष्टि नहीं मिल रही थी ब्रोकर के काम से फिर उन्होंने स्टॉक मार्केट इन्वेस्टर के तौर पर काम करना शुरू कर दिया जब वो सिर्फ 32 साल के थे तब उन्होंने अपना पहला निवेश किया था

 

क्या आप जानते हैं राकेश झुनझुनवाला कौन हैं 

 

कैसे बनाई राधाकिशन ने D-Mart

शुरुवाती दिनों में राधाकिशन को शेयर मार्केट में बहुत नुकसान का सामना करना पड़ा मगर फिर धीरे धीरे उनकी गिनती देश के महत्वपूर्ण निवेशकों में होने लगी जैसा की होता है शेयर मार्केट में कभी बहुत ज़्यादा फायदा हो जाता है तो कभी बहुत नुकसान भी हो जाता है राधाकिशन के साथ भी ये हुआ नुक्सान ऐसा हुआ की वो दिवालिया होने के कगार पर पहुँच गए उन्हीने तब मन बना लिया की उन्हें अब अपना काम करना है वो हमेशा से अमेरिका की Wallmart कंपनी से प्रेरित थे वैसा ही कारोबार वो भारत में करना चाहते थे वॉलमार्ट के काम को समझने के लिए वो अमेरिका भी गए जहाँ से इस बिज़नेस की बारीकियां समझ कर वो भारत आ गए लौटने के बाद साल 2002 में उन्होंने मुंबई के पवई में पहला स्टोर डाला D-Mart का

आज कितने स्टोर हैं D-Mart के

मुंबई के पवई से शुरुवात की थी राधाकिशन ने एक स्टोर से D-Mart के और अपनी मेहनत और लगन के बलबूते पर आज देश में 220 D-Mart के स्टोर हैं अपने इस व्यवसाय के चलते आज देश के सबसे सफल कारोबारी बन गए हैं राधाकिशन

कितनी संपत्ति है राधकिशन की

एक शेयर ब्रोकर के तौर पर काम करने वाले राधाकिशन ने अपने मेहनत के डैम पर महज़ 19 सालों में 3 लाख करोड़ की कंपनी khadi  कर ली देश की सबसे बड़ी रिटेल चैन कंपनी डिमॉर्ट का मार्केट कैपिटलाइजेशन 11 अक्टूबर 2021 के दिन 3 लाख करोड़ तक पहुँच गया है इतने काम समय में इतनी बड़ी पूंजी जुटाने वाली कंपनियों में डी-मार्ट का नाम 17वें स्थान पर दर्ज हो गया है  इस साल D-Mart के शेयरों में 70 परसेंट तक का उछाल देखा गया है. सोमवार को इस कंपनी के शेयर अपने रिकॉर्ड ऊंचाई 4,837 रुपये पर पहुंच गए. इसी के साथ कंपनी की पूंजी 3 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा पर पहुंच गई.

 

 

कैसी लगी आपको हमारी ये जानकारी अगर आपके पास हमारे लिए कोई सुझाव है तो हमें ज़रूर कमेंट करके बताएं !

 

आप अगर लिखना चाहते हैं हमारे ब्लॉग पर तो आपका स्वागत है

हमसे जुड़े : Facebook | Telegram | Instagram

One Comment on “D-Mart ke malik kaun hain | D-Mart ki safalta ki kahani

Leave a Reply

Your email address will not be published.