loan kya hota hai | loan kitne prakar ke hote hain

जब किसी व्यक्ति संस्था या देश के सामने ऐसी स्तिथि आ जाये की उसके खर्चे उसकी आमदनी से ज़्यादा हो जाये तब ऐसी स्तिथि में उसको किसी से उधर लेना पड़ जाता है इस ली गई धन राशि को उधार Loan कहा जाता है। लोन किस वित्तीय संस्था या बैंक से लिया जाता है जिसमें होता ये है की लोन के बदले ब्याज चुकाना पड़ता है

लोन क्या है ?

loan-kya-hota-hai-loan-kitne-prakar-ke-hote-hain

भारत में अभी इन दिनों Covid-19 की वजह से बहुत सारे लोगों की नौकरी चली गई या फिर जिनकी नौकरी बची भी है उनको पूरा वेतन नहीं मिल रहा है जिसकी वजह से वो बहुत परेशान है लाखों लोग जो मध्यम वर्ग में आते थे वो अब गरीबी रेखा तक आ गए हैं उनकी दैनिक ज़रूरतें भी पूरी नहीं हो पा रही हैं ऐसे में अपनी आमदनी से उनका घर चलना मुश्किल होता जा रहा है

खर्चे जो ज़िन्दगी के होते है वो चाहे कैसे भी हालात हों कम नहीं होते उनकी पूर्ति आपको कैसे भी करनी होती है ऐसे हालत में जब आप कमा कम रहे हों और खर्चे ज़्यादा हो जाएँ तो आपको अपने खर्चों और आमदनी के बीच के अंतर को भरने के लिए किसी से उधार लेना पड़ जाता है इसको ही Loan कहते हैं

लोन के कितने अंग होते हैं

किसी उधार ली गई रकम को लोन नहीं कहा जा सकता जब तक उसमें तीन बातें शामिल ना हों

  • उधार दी गई रकम
  • ब्याज
  • समयावधि

उधार दी गई रकम Loan Amount

किसी व्यक्ति को जब पैसों की अचानक ज़रूरत पड़ जाती है तब वो किसी बैंक या वित्तीय संस्था से लोन लेता है जो राशि वो उधार लेता है उसको मूलधन Principal Amount कहा जाता है

ब्याज Interest

लिए गए लोन पर एक निश्चित दर से जो राशि लोन लेने वाले को चुकानी पड़ती है मूलधन के अलावा भी उसे ब्याज कहा जाता है ब्याज भी कई तरह के होते हैं जिसके बारे में हम फिर कभी बात करेंगे

समयावधि Duration of loan

जब कोई कहैं से लोन लेता है तो उस संस्था से या बैंक से एक करार पर दस्तखत करता है की वो एक निश्चित समय तक लोन की साडी रकम यानी मूलधन चूका देगा ब्याज की जो दर है उसके अलावा इसे लोन की समयावधि Duration of loan कहा जाता है  

लोन कितने प्रकार के होते हैं

अलग – अलग ज़रूरतों के हिसाब से लोन उपलब्ध होता है आपको जिस किस्म की ज़रूरत है उस तरह का लोन आपको मिल सकता है जैसे लोन अलग – अलग होते हैं वैसे ही उनकी शर्ते और ब्याज की दरें भी अलग – अलग होती हैं आएये जान लेते हैं लोन कितने प्रकार के होते हैं

  • शिक्षा ऋण Education loan
  • व्यक्तिगत ऋण Personal loan 
  • व्यावसयिक ऋण Business loan
  • स्वर्ण ऋण Gold loan
  • कृषि ऋण Agriculture loan
  • गृह ऋण Home loan
  • कार ऋण Car loan
  • संपत्ति ऋण Property loan

आइये अब इन सभी ऋणों के बारे में विस्तार से समझ लेते हैं

शिक्षा ऋण Education loan

कभी कभी ऐसा देखा गया है की कोई होनहार छात्र होते हैं जो की पढाई में बहुत अच्छे होते हैं मगर उनके पास पैसे की कमी हो जाती है जिसकी वजह से उन्हें अपनी पढाई बीच में ही छोड़नी पड़ जाती है या फिर कोई ऐसा छात्र होता है जिसको उच्च शिक्षा के लिए कहीं विदेश या भारत में ही किसी ऐसे संसथान में जाना होता है जिसकी फीस वो वहन नहीं कर सकता तो उसके सामने एक रास्ता बचता है शिक्षा ऋण Education loan का जो की अक्सर सभी बैंक दिया करते हैं 

व्यक्तिगत ऋण Personal loan 

हर इंसान अपनी ज़रूरतों के लिए कहीं ना कहीं कोई ना कोई काम करता है जिसके बदले में उसे सैलरी मिलती है मगर कई बार ऐसे हालात बन जाते हैं जब उसको अचानक से कुछ पैसों की ज़रूरत पड़ जाती है जैसे किसी की शादी या घर में कोई सामान खरीदना किसी को कोई गिफ्ट देना आदि तो वैसी स्तिथि में उसको कहीं से लोन लेना पड़ता है ऐसे व्यक्तिगत खर्चों के लिए जो लोन लिए जाते है उसको व्यक्तिगत ऋण Personal loan कहा जाता है इसमें जो ब्याज की दरें होती हैं वो दूसरे ऋणों के हिसाब से ज़्यादा होती हैं 

व्यावसायिक ऋण Business loan

अक्सर लोग कोई नया व्यापार करना चाहते हैं या फिर अपने व्यापार को थोड़ा और बढ़ाना चाहते हैं मगर इस काम के लिए उनको जितनी पूंजी चाहिए होती है वो उनके पास नहीं होती है ऐसे में बैंक और कई वित्तीय संस्थाएं उनके मदद करने के लिए आती हैं जो उन्हें उनके व्यापार में मदद करने के लिए ऋण देती हैं ऐसे ऋण को ही व्यावसायिक ऋण Business loan कहा जाता है

स्वर्ण ऋण Gold loan

सबसे आसानी से मिलने वाला ऋण होता है ये स्वर्ण ऋण Gold loan क्योंकि इसमें ऋण देने वाले बैंक या संस्था को कोई जोखिम नहीं होता की ऋण लेने वाला ऋण चुकाएगा की नहीं क्योंकि उसके पास पहले से उसका सोना होता है जिसके बदले में उसको ऋण दिया जाता है अगर किसी कारणवश वो ऋण नहीं चुकता तो वो सोना बेचकर अपने ऋण की वसूली कर सकते हैं

कृषि ऋण Agriculture loan

जैसा की हम सब जानते हैं और इस बात का हमको गर्व भी है की हमारा देश एक कृषि प्रधान देश है हमारे देश में एक बहुत बड़ी आबादी कृषि कार्यों से अपनी आजीविका चलती है मगर ये भी एक सच है की हमारे देश में किसानो की हालत बहुत अच्छी नहीं है जिसकी वजह से उन्हें कर्ज के जाल में फंसना पड़ जाता है कभी बीज के लिए कभी कटाई के लिए कभी कृषि कार्यों में उपयोग होने वाले वाहनों के लिए उनको ऋण की आवश्यकता पड़ती है जिसके लिए वो बैंकों से लोन लेते हैं ऐसे कार्यों के लिए ऋणों को कृषि ऋण Agriculture loan कहा जाता है

गृह ऋण Home loan

हमारे देश की जनसंख्या दिन ब दिन बढ़ती चली जा रही है ऐसे में सबसे ज़्यादा ज़रूरी जो चीज़ होती है एक इंसान के लिए वो होता है उसका अपना एक घर वो घर वो अपनी हिसाब से खरीदता या बनवाता है जहाँ वो अपने परिवार के साथ रह सके मगर आजकल घर खरीदना या बनवाना इतना आसान नहीं रह गया है हर चीज़ महंगी हो गई है ऐसे में किसी साधारण आदमी के लिए ये सपना पूरा करना लगभग असंभव है ऐसे में उसकी मदद करते है गृह ऋण Home loan जो की आसानी से बैंक से लिया जा सकता है आपकी वित्तीय स्तिथि के अनुसार

कार ऋण Car loan

आजकल के भौतिक सुख सुविधाओं से भरे इस समाज में सबकी इक्षा होती है की वो सब उसके पास भी हो जो वो दूसरों के पास देखता है ऐसी ही चीज़ों में शामिल है कार भी कभी कभी ये ज़रूरत भी बन जाती है इंसान की मगर एक साथ इतने सारे पैसे नहीं होते उसके पास की वो जाये और शोरूम से अपनी पसंद की कोई कार ले आये जिसके लिए उसको किसी बैंक से ऋण लेना पड़ता है जोकि आसानी से आजकल मिल जाता  है आपकी प्रोफाइल देखकर ऐसे ऋण को कार ऋण Car या Vehicle loan कहते हैं

संपत्ति ऋण Property loan

ये भी एक तरह का बिना जोखिम वाला ऋण होता है क्यों की ऋण लेने वाला व्यक्ति ऋण के बदले में अपनी कोई संपत्ति गिरवी रखता है जिसके बदले में उसे ऋण दिया जाता है अगर कोई भविष्य में ऐसी स्तिथि बनती है की ऋण लेने वाला ऋण चुकाने में असमर्थ हो जाता है तो उसकी संपत्ति से वो ऋण की वसूली की जाती है

लोन कहाँ से लिया जा सकता है

जब कभी भी पैसे की अचानक ज़रूरत आ जाती है तो किसी से ऋण लिया जाता है मगर यहाँ एक सुझाव ये है की जहाँ तक हो कभी लोन नहीं लेना चाहिए अपनी ज़रूरतों को भले कम कर लिया जाये उधार क्योंकि आपकी कमाई खा जाता है खैर जब आपको ऐसी ज़रूरत आ ही जाये की आपको लोन लेना ही पड़े तो आप यहाँ सम्पर्क कर सकते हैं

  • ऐसे बैंक से जिकी साख अच्छी हो
  • वित्तीय संस्थाएं ( बजाज फिनसर्व आदि)

लोन लेने के लिए क्या ज़रूरी है

अगर अआप्को किसी बैंक या किसी वित्तीय संस्था से लोन की ज़रूरत हो और आप जा रहे हों वहां एप्लीकेशन देने तो आप के पास पहले से कुछ दस्तावेज़ Documents होने ज़रूरी है उनके बिना आप वहां से लोन नहीं ले सकते हैं अलग अलग लोन लेने वालों के लिए अलग अलग Documents की ज़रूरत होती है आइये एक एक कर के देख लेते हैं

नौकरी करने वालों के लिए 

  • पेन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • एड्रेस प्रूफ के लिए बिजली बिल, टेलीफोन बिल, मतदाता पहचान पत्र
  • आपके पहचान के लिए आधार कार्ड, पासपोर्ट, पेनकार्ड ड्राइविंग लाइसेंस आदि
  • बैंक पासबुक या बैंक का स्टटमेंट या सैलॅरी स्लिप पिछले 6 महीने की

व्यवसाय शुरू करने वालों के लिए 

  • कम से कम 2 साल का फाइनेंशल स्टेटमेंट
  • एड्रेस प्रूफ के लिए बिजली बिल, टेलीफोन बिल, मतदाता पहचान पत्र
  • पहचान के लिए आधारकार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस,मतदाता पहचान पत्र आदि
  • बैंक स्टेटमेंट

पर्सनल लोन लेने के लिए 

  • पेनकार्ड
  • एड्रेस प्रूफ के लिए बिजली बिल, टेलीफोन बिल, ड्राइविंग लाइसेंस, आधार कार्ड, पासपोर्ट आदि
  • सैलरी स्लिप या बैंक स्टेटमेंट
  • फॉर्म 16

 

कैसी लगी आपको हमारी ये जानकारी अगर आपके पास हमारे लिए कोई सुझाव है तो हमें ज़रूर कमेंट करके बताएं !
आप अगर लिखना चाहते हैं हमारे ब्लॉग पर तो आपका स्वागत है

हमसे जुड़े : Facebook | Telegram | Instagram

4 Comments on “loan kya hota hai | loan kitne prakar ke hote hain

Leave a Reply

Your email address will not be published.