history of mansa musa

Mansa Musa sabse dhanwan insaan | world richest man

अगर कोई ते सवाल करे आज कल के दौर में की दुनिया का सबसे आमिर इंसान कौन है तो ज़ाहिर है सबके ज़ुबान अपर जो नाम आएंगे वो है टेस्ला, स्पेस एक्स जैसी कई कंपनियों के मालिक एलन मस्क या ऐमज़ॉन के मालिक जेफ़ बेजोस या माइक्रोसॉफ्ट के मालिक बिल गेट्स का और ये आज के दौर की बात है तो सच भी है मगर सवाल ये नहीं जी हाँ सवलए है की आज तक दुनिया का सबसे धनवान इंसान कौन है इसका सही जवाब है मनसा मूसा Mansa Musa जी हाँ आपने सही पढ़ा इस इंसान के पास इतनी दौलत थी की आज तक उसका हिसाब सही सही लगाया नहीं जा सका सिर्फ अनुमान लगाए जाते हैं आज इस आर्टिकल से जानेंगे कौन था मनसा मूसा और कितनी थी उसकी सम्पति

कौन था मनसा मूसा Who was Mansa 

mansa musa ki kahani

इतिहासकारों का मानना है की मनसा मूसा का जन्म साल 1280 में अफ्रीका में किसी जगह हुआ था अब उसके पैदाइश की सही जगह का पता नहीं चल पता किसी दस्तावेज़ से बात भी बहुत पुरानी है खैर ! मनसा मूसा का पूरा नाम मूसा कीटा प्रथम था ये माली देश के राजा थे इन्होने सन 1312 से लेकर 1337 तक यहाँ शासन किया और इसी दौरान अपनी संप्पत्ति जुटाई कहा जाता है की मनसा ने जितनी संपत्ति इकठ्ठा की उतना ही दिल खोल कर उसने अपनी जनता पर पैसे खर्च भी किए अबू बक्र- 2 की मृत्यु के बाद 33 साल की उम्र में मनसा मूसा माली का शासक बना

कहाँ से कहाँ तक था मनसा मूसा का साम्राज्य

मनसा मूसा Mansa Musa  की सल्तनत कितनी बड़ी थी ? इसका अंदाज़ा भी लगाना उतना ही मुश्किल काम है जितना की उसकी दौलत का हिसाब लगाना है. मगर फिर भी ये समझिए की माली, नाइजर, नाइजीरिया, चाड, बुरनिका फासो, मारिटानिया, सेनेगल, गांबिया और गिनिया तक मनसा की सल्तनत थी.

कैसे बना इतना धनवान मनसा मूसा

मनसा मूसा का साम्राज्य बहुत बड़ा था जहां नमक और सोने के बड़े बड़े खदान थे। और इन खदानों से हर साल कई-कई टन सोना और नमक निकलता था । ये वो समय था जब यूरोपिए देशों में संसाधनों की कमी की वजह से हाहाकार मचा हुआ था, गरीबी महंगाई और राजनैतिक अस्थिरता के कारण समूचा यूरोप गृह युद्ध के संकट से जूझ रहा था.

कई देशों की नमक की मांग को पूरा भी माली से किया जा रहा था ये वही दौर था जब सोने की मांग भी दुनियाँ में बढ़ रही थी, और इस क्षेत्र में सोने की बड़ी खाने मौजूद थीं जिनसे साल भर में लगभग 1000 किलो तक सोने का उत्पादन किया जा रहा था.

इतिहासकार ऐसा मानते हैं की मनसा मूसा Mansa Musa के पास उस वक़्त लगभग 4 लाख मिलियन अमरीकी डॉलर भारतीय रुपयों के हिसाब से ढाई लाख करोड़ रुपये थे जो आज तक ना किसी दूसरे के पास तब हुए ना उसके बाद किसी के पास आज तक हुए इस लिहाज से वो दुनिया का सबसे धनवान इंसान हैं

 

आप हमारे Youtube चेंनल पर मनसा मूसा की जीवनी देख भी सकते हैं 

 

मनसा मूसा कैसा राजा था

मनसा मूसा Mansa Musa  बहुत धार्मिक व्यक्ति था वो हमेशा इस्लाम और उसके सिद्धांतों का पालन करता था, इस्लाम धर्म में ऐसी बहुत सी बातें हैं जिनका पालन हर एक मुस्लिम को करना ज़रूरी है. उनमे से एक है हज करना और मनसा मूसा ने भी हज करने का इरादा किया, कहते हैं जब वो हज पर जाने की तैयारी कर रहा था तब उसने अपने सफर के लिए अपने अस्तबल में मौजूद सबसे मज़बूत 80 ऊंटों का चयन किया ताकि, उनपर वज़नी सामान लादा जा सके। उन 80 ऊंटों में सब पर लगभग 130 किलो सोना लादा गया, कुछ इतिहासकार कहते हैं की, जब वो हज की यात्रा पर निकला तब उसके काफिले में लगभग 60000 लोग थे।और इन 60000 लोगों में से 12000 ऐसे थे, जो बस अपने बादशाह की देखरेख के लिए थे मनसा मूसा के घोड़े के आगे 500 घुड़सवार और उसके पीछे 500 घूडसवारों का दस्ता था. इन सबके हाथों में एक एक सोने की छड़ी हुआ करती थी और ये काफिला लगभग 4000 मील लंबा था, जो भी जहां से गुज़रा था मनसा का काफिला लोग उसे देखने दूर दूर से आते थे, और देखकर उसकी विशालता चौंक जाते थे.

मनसा मूसा की फौजी ताकत

मनसा मूसा न सिर्फ दुनियाँ में सबसे धनी व्यक्ति था बल्कि, वो ऐसा शासक भी था जिसके पास उस वक़्त और आज भी कई देशों के पास इतनी बड़ी सेना नहीं है जितनी की उसके पास थी. कहते हैं की, उसके पास लगभग 2 लाख सैनिक थे जो हमेशा उसकी सेवा में लगे रहते थे. और इन 2 लाख सैनिकों में से लगभग 40000 से 50000 ऐसे सैनिक थे जो तीरंदाज़ थे.

हज का सफर और मनसा मूसा

मनसा मूसा उस वक़्त सबसे धनी व्यक्ति था, मगर अभी दुनियाँ उसके धन से अभी अंजान थी उसके धन से पर्दा उठा था 1324 ईस्वी में. जब मनसा मूसा Mansa Musa  निकला था अपनी हज की यात्रा के लिए कहते हैं, वो जब निकला अपने शहर से बाहर तो जहां -जहां उसे ग़रीब या भिख मांगने वाले लोग दिख जाते, वो उन्हे सोने के सिक्के दिया करता और वो ऐसा इसलिए करता क्योंकि इस्लाम का एक सिद्धान्त है की, अपने धन का कुछ हिस्सा आपको ज़रूरत मंद लोगो में बांटना है और वो इस सिद्धान्त पर चल रहा था. एक किस्सा ये है की जब वो मिस्र से गुज़र रहा था तब उसको शहर में गरीब लोग दिखे जो सड़कों पर सो रहे थे। तब उसने मिस्र की उस सड़क पर सोने के सिक्के बिखेर दिये और जब सुबह लोगों की आँखें खुलीं तो उन्होने अपने आसपास सोने के सिक्के बिखरे हुए पाये. देखते देखते वो सब ग़रीब लोगों की ज़िंदगियाँ बदल गईं, और उसका असर ये हुआ की मिस्र की अर्थव्यवस्था में बड़ा अंतर आ गया वहाँ महंगाई अचानक बढ़ गई, और सोने के कारोबार में लगभग 45 % की कमी आ गई क्योंकि, अब अक्सर लोगों के पास वहाँ सोने का भंडार जैसा था और एक असर ये हुआ की मिस्र में कई दशकों तक माली साम्राज्य का असर रहा था. मनसा मूसा ने अपनी हज की यात्रा के दौरान लगभग 7 हज़ार किलो मीटर का सफर तय किया.

 

ऐसी अन्य जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें 

 

यूरोपीय देशों चौंके मनसा मूसा के बारे में जानकर

मनसा मूसा की इस यात्रा और इसकी भव्यता का जब यूरोप में पता चला तो, योरोपीय लोगों को भरोसा नहीं हुआ की कोई इतना धनवान भी हो सकता है। उन्होने इस बात को किसी के द्वारा फैलाई हुई भ्रांति समझी मगर अब हर किसी की जुबान पर एक ही नाम था मनसा मूसा, तब यूरोपीय लोगों ने इसकी सच्चाई का पता लगाने की सोची और उन्होने कुछ लोगों को भेजा जो जाकर पता लगा सकें की जो वो सून रहे हैं। उस बात में कितनी सच्चाई है उस वक़्त यूरोपीय लोग एक एटलस बनाया करते थे. वो जहां जहां जाते थे उस जगह और उस जगह की महत्वपूर्ण जानकारी उस एटलस में दर्ज किया करते थे, उस एटलस को वो कैटलन एटलस कहते थे. खैर बहुत लंबा सफर तय करके जब वो मनसा मूसा तक पहुंचे तो उनके पैरों के नीचे से जैसे ज़मीन खींच ली गई। वो उसकी सल्तनत और उसका वैभव देखकर दांतों तले उँगलियाँ दबाने लगे और उन्होने अपने कैटलन एटलस में मनसा मूसा की फौज और उसकी दौलत का चित्रण किया. और महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज की कैटलन एटलस में दर्शाया गया की मनसा मूसा एक सोने के सिंहासन पर बैठा हुआ है, और उसके सर पर सोने का एक बड़ा सा ताज है, और इसके एक हाथ में सोने की गेंद है, और एक हाथ में सोने की एक मोती सी छड़ी है.

मनी मैगज़ीन को दिये एक इंटरविव में यूनिवेर्सिटी ऑफ मिशिगन के मशहूर इतिहास के प्रोफेसर रोडल्फ़ वेयर ने कहा था “ये इतिहास के उस सबसे आदमी के बारे में बात है, जब आपके पास इतनी दौलत एकत्रित हो जाए की आप उसका हिसाब न लगा सके और उसका अंदाज़ा लगाना भी मुश्किल हो तब आप समझिए आप अमीर आदमी हैं”.

इमारतों का शौक़ीन मनसा मूसा

कहते हैं की जब मनसा मूसा Mansa Musa  हज के सफर से लौटकर माली आया, तो उसने कई मस्जिदें और कई मदरसे कई पुस्तकालयों का निर्माण किया जिनके अवशेष आज भी देखे जा सकते हैं

 

 

 

कैसी लगी आपको हमारी ये जानकारी अगर आपके पास हमारे लिए कोई सुझाव है तो हमें ज़रूर कमेंट करके बताएं !

 

आप अगर लिखना चाहते हैं हमारे ब्लॉग पर तो आपका स्वागत है

हमसे जुड़े : Facebook | Telegram | Instagram

3 Comments on “Mansa Musa sabse dhanwan insaan | world richest man

Leave a Reply

Your email address will not be published.