Traffic Rules in Hindi | Traffic Rules & Signals

Traffic Rules (Traffic Rules in hindi, Traffic Signals, Traffic Signs, How to find Traffic Rules, Red Signal, Yellow Signal, Green Signal)

दोस्तों हम मनुष्यों को जीवन जीने के लिए कुछ नियमों का पालन करना पड़ता है वैसे ही जब हम सड़क पर होते हैं तो हमें सड़क पर चलने के नियमों का पालन करना पड़ता है और सड़क पर चलते समय हमें कई तरह के संकेत नज़र आते हैं जिनको पहचानना और उनका पालन करना हमारे लिए बहुत ज़रूरी है ताकि हम किसी मुसीबत में ना पड़ जाए और हमारी वजह से कोई और परेशान न हो

हम hindeeka में हमेशा कोशिश करते हैं की आपके हर सवाल का जवाब हम दे सकें ताकि आपको आके सवालों के लिए कहीं और ना जाना पड़े आज हम लाये हैं आपके लिए बहुत ज़रूरी जानकरी जो सम्बंधित है traffic rules से जिसको जानना और ठीक से समझना हम सबके लिए बहुत ज़रूरी है

क्या हैं भारत में सड़क यातायात के नियम ?

Traffic Rules in Hindi

ऐसा नहीं है की हम सड़क पर चलने के नियमों नहीं जानते हैं बस हम उनका पालन नहीं किया जाता हमारे द्वारा कारण कुछ भी हो सकते हैं मगर ये कभी कभी जानलेवा भी साबित हो जाता है सड़क पर चलते समय हमें इन नियमों का पालन ज़रूर करना चाहिए

  • अगर हम पैदल चल रहे हैं तो हमें निर्धारित जगह पर चलाना चाहिए
  • दो पहिया वाहनों को चलते समय या उनकी सवारी करते समय हेलमेट ज़रूर पहना जाए
  • अगर हम चार पहिया वहां में सफ़र कर रहे हैं तो सभी यात्रियों को सीट बेल्ट पहनना चहिये
  • नशे ही हालत में गाड़ी नहीं चलानी चाहिए
  • भारत में 18 की उम्र के पहले ड्राइविंग लाइसेंस नही दिया जाता और बिना लाइसेंस के गाड़ी नहीं चलानी चाहिए
  • सड़कों पर अलग अलग तरह के संकेत होते हैं जिनकी जानकरी हमें होनी चाहिए
  • जहाँ पार्किंग की जगह निर्धारित हो वहीँ व्यवस्थित रूप से अपने वाहनों को पार्क करना चाहिए
  • जहाँ नो एंट्री हो उस जगह अपने वाहन नहीं ले जाने चाहिए
  • ऐसी जगह जहाँ से ओवर टेक करना खतरनाक हो वहां सावधान हो जाना चाहिए
  • सड़कों पर बेवजह हॉर्न नहीं बजने चाहिए
  • रात में गाड़ी चलते समय हमेशा लो बीम लाइट पर गाड़ी चलानी चाहिए

क्या आप जानते हैं – फ़ास्टटैग क्या होता है और क्या है इसका उपयोग ?

ट्रैफिक सिग्नल की जानकारी

दोस्तों अकसर देखा गया है की लोग चौक चौराहों पर लगे हुए ट्रैफिक सिंग्लन की अनदेखी कर देते हैं और अपने साथ दूसरों की जान भी जोखिम में डाल देते हैं कई बार ये भी देखा गया है की बहुत से लोगों को इन ट्रैफिक सिग्नल की जानकारी ही नहीं होती है आइये इन ट्रैफिक सिग्नल को समझ लेते हैं

लाल लाइट का संकेत (Red Light Indicator)

इसमें जो सबसे उपर की लाइट है उसका रंग लाल होता है और जब हम कहीं जा रहे हों और लाल रंग की लाइट जल रही हो तो हमें रूक जाना चाहिए ये चेतावनी का संकेत है

पीले लाइट का संकेत (Yellow Light Indicator)

लाल रंग के बाद जो रंग होता है वो पिला होता है इसका मतलब की अब आप तैयार हो जाइये अगर आपने किसी ट्रैफिक सिग्नल पर खड़े हैं और आपने अपनी गाड़ी बंद कर दी है तो ये समय है स्टार्ट करने का

हरे लाइट का संकेत (Green Light Indicator)

इस लाइट में जो सबसे निचे लाइट होती है वो हरे रंग की होती है जिसका मतलब होता है की अब आप अपने सड़क को पार कर सकते हैं वहां भी देखा गया है की जैसे ही हरी बत्ती जलती है लोग जल्दीबाज़ी से काम लेते हैं ये भी करना गलत है आप धीरे धीरे वहां से निकालिए ताकि किसी के साथ आपकी टक्कर ना हो जाए

ये भी पढ़िए – कब मनाया जाता है सड़क सुरक्षा सप्ताह ?

यातायात सम्बंधित संकेत Traffic Related Signs

जब भी आप सड़कों पर यात्रा कर रहे होते हैं आपने देखा होगा कई तरह के संकेत सड़कों पर नज़र आते हैं जिनके अनदेखी नहीं करनी चाहिए इनमे से कई ऐसे होते हैं जिनका मतलब हमे नहीं पता होता है ये संकेत 3 भागों में बटे हुए होते हैं

  • आयताकार संकेत – सूचनात्मक संकेत
  • त्रिकोणीय संकेत – चेतावनी वाले संकेत
  • गोलाकार संकेत – आदेशात्मक संकेत

आयताकार संकेत – आपने देखा होगा सड़कों के किनारे हरे या नील रंग के आयताकार या चौकोर संकेत लगे हुए होते हैं जो यात्रियों को ये दर्शाने के लिए होते हैं की अब कौन सा शहर आने वाला है आगे पेट्रोल पंप, या कोई रेस्टोरेंट है आदि

सूचनात्मक संकेतों का विवरण

क्र.संकेत संकेत का मतलब
1इस तरह के संकेतक अगर आपको सड़क के किनारे नज़र आये तो इसका मतलब होता है की आगे पट्रोल पंप है और यदि आपको आपकी गाड़ी में ईधन डलवाना है तो आप डलवा सकते हैं
2इस तरह के संकेतक अगर आपको सड़क के किनारे नज़र आये तो इसका मतलब होता है की आगे पब्लिक टेलीफोन बूथ है इमरजेंसी में ये किसी से बात करने के लिए बहुत महत्वपूर्ण सेवा है
3ये संकेतक हमें बताता है की आगे बस स्टैंड आने वाला है
4ये सकेन्तक हमें बताता है की आगे प्राथमिक चिकित्सा केंद्र है ये सड़क पर होने वाली दुर्घटनाओं में बहुत महत्वपूर्ण सेवा है जिससे किसी की जान भ्चाई जा सकती है प्राथमिक चिकित्सा के द्वारा
5इस तरह के संकेतक हमें बताते हैं की आगे चिकित्सा केंद्र उपलब्ध है जहाँ किसीमरीज़ को इलाज के लिए भर्ती करवाने की ज़रूरत है तो ये सुविधा यहाँ उपलब्ध है
6सफ़र के दौरान कई बार थकान महसूस होती है उसके लिए की रेस्टोरेंट या होटल की ज़रूरत होती है ये संकेतक हमें किसी रिफ्रेशमेंट पॉइंट होने की सुचना देते हैं
7कई बार हम किसी लम्बे सफ़र पर होते हैं तो हमें रस्ते में भूख लग जाती है तो उसके लिए सड़कों के किनारे होटल और ढाबे बने होते हैं उनकी सुचना इन संकेतों के माध्यम से दी जाती है
8सड़क पर गाडी चलते चलते कई बात थकान महसूस होती है या किसी और कारण से गाड़ी कड़ी करनी पड़े तो उसके लिए पार्किंग के व्यवस्था होती है ये संकेतक हमें उसकी सुचना देते हैं
9इस तरह के संकेत को देखकर सावधान हो जाना चाहिए क्योंकि ये बताते है की आगे रास्ता बंद है आपको अपनी यात्रा किसी और रास्ते से करनी है
10ये संकेत हमें बताते हैं की आगे पैदल चलने वाले लोगों के लिए स्थान दिया गया है आप अपनी गति धीमी करें

त्रिकोणीय संकेत – इस तरह के संकेत अक्सर लाल रंग के त्रिकोणीय होते हैं जो यात्रियों को ये दर्शातें है की ओवरटेक नहीं करना है, हॉर्न का प्रयोग वर्जित है आदि इनकी अनदेखी करने पर जुर्माना और कई मामलों में सज़ा का भी प्रावधान होता है साथ ही इनकी अनदेखी से ज़िन्दगी को भी खतरा हो सकता है

चेतावनी वाले संकेतों का विवरण

क्र संकेत संकेत का मतलब
1इस संकेत का मतलब होता है की आगे बायाँ मोड़ है अपने वाहन की गति को कृपया नियंत्रित रखें सावधानी से ड्राइव करें
2जब भी आप सड़क किनारे आपको ये संकेत नज़र आये तो आपको ये समझ जाना चाहिए की आगे दायाँ मोड़ है आप सावधान हो जाएँ
3सड़क पर चलते चलते अचानक जब आपको इस तरह का संकेत नज़र आया तो आपको सावधान हो जाना चाहिए आगे कोई ऐसा पूल है जो संकीर्ण (सकरा) अपने व्वाहन को सावधानी से चलाये
4इसका मतलब है की रास्ते में आगे अब तट्रैफिक सिग्नल है आप अपनी गाड़ी की स्पीड को नियंत्रण में रखें और सिग्नल को फॉलो करें
5इस संकेत का मतलब होता ई की आगे रेल्वे फाटक है और हो सकता है वहां कोई रेल्वे कर्मचारी हो या ना हो आपको गाड़ी फाटक के पास सावधानी से पार करनी है
6आपने देखा होगा जब आप कहीं जा रहे हों तो सड़क पर इस तरह का कोई संकेत लगा होता है इसका मतलब होताहै सड़क पर आगे काम चल रहा है गाड़ी धीरे और सावधानी से चलायें
7इस तरह के संकेतहमें ये बताते है की आगे स्कूल है जहाँ बच्चे हो सकते हैं सड़क पर तो अपने वाहन की गति को नियंत्रण में रखें
8कहीं कहीं वाहनों की गति को नियंत्रित रखने के लिए सड़कों पर गति अवरोधक बनाये जाते हैं ये संकेत हमें बताता है की गति अवरोधक है
9सड़क पर जब भी ये संकेत नज़र आये हमें ये जान लेना चाहिए की आगे पैदल चलने वालों के लिए जेबरा क्रासिंग बनाई गई ताकि वो सड़क पार कर सकें
10ये संकेतक हमें इस बात की जानकारी देता है की आगे सड़क फिसलन भरी है कृपया अपनी गाड़ी की गति नियत्रित रखे और सावधान हो जाएँ

गोलाकार संकेत – आदेशात्मक संकेत गोल और गहरे लाल रंग के होते हैं इनको देखतेही समझ जाना चाहिए की यहाँ पर कोई आदेश दिया जा रहा है संकेत के माध्यम से जिनकी अनदेखी आपको मुसीबत में डाल सकती है इस लिए इन्हें आदेशात्मक संकेत भी कहा जाता है

क्र संकेत संकेत का मतलब
1अकसर शहरी इलाकों में या किसी खास जगह पर जैसे कोर्ट, होस्पिटल वगैरह के आसपास इस तरह के संकेत दिखाई देते हैं जिसका मतलब होता है यहाँ हॉर्न बजाना मना है
2इस तरह के संकेत देखते ही आपको समझ जाना चाहिए की आप जिस रास्ते पर हैं उसपर आगे चल कर प्रवेश निषेध No Entry है
3ये निशान हमें ये बताते हैं की हम जिस लेन पर चल रहे हैं हमको उसी लेन पर चलना है यानी किसी भी गाड़ी को अपनी गाड़ी से ओवर टेक नहीं किया जा सकता यहाँ पर
4इस संकेत का मतलब होता है U – Turn लेना मना है यानी आपको इस रास्ते में कहीं से भी वापस मुड़ने की मनाही है
5ये निशान सड़क पर ये बताने के लिए होता है की आप अपनी गाड़ी बायीं ओर नहीं मोड़ सकते हैं
6जब भी सड़क पर आपको ऐसा निशान या संकेत नज़र आये तो याद रखिये आपको ये बताया जा रहा है की आप दाहिने तरफ नहीं मूड सकते
7ये संकेत इस बात का सूचक है की आप यहाँ आपनी किसी भी तरह की गाड़ी पार्क नहीं कर सकते यानी यहाँ No Zone है
8जब भी आप इस संकेत को देखें सड़क किनारे तो तुरंत अपनी गाड़ी की स्पीड 40 कि मी प्रति घंटा कर दें यानी इसका मतलब होता है आप 40 कि मी से अधिक गति से यहाँ गाड़ी नहीं चला सकते
9ऐसा नहीं की सड़क पर सिर्फ गाड़ियां ही दौड़ती हैं पैदल चाल्ने वाले लोग ही होते हैं मगर जब उनको ये संकेत नज़र आये तो उनको समझ जाना चाहिए ये सड़क पैदल चलने की हिसाब से सुरक्षित नहीं है
10अकसर बाज़ार या किसी भीड़ भाड़ वाली जगहों पर इस तरह के संकेत लगाये जाते हैं इसका मतलब होता है की किसी भी तरझ के वाहनों का प्रवेश वर्जित किया गया है

दिशात्मक संकेत- ऐसे संकेत आपको दिशा के बारे में संकेत देते हैं की किस दिशा में आपको जाना है किस दिशा में नहीं जाना है ये निशान या संकेत आपको गहरे नील और गोलाकार बोर्ड पर नज़र आयेंगे आइये इनको विस्तार से समझ लेते हैं

क्र संकेत संकेत का मतलब
1ये संकेत हमें ये बताता है की आगे चल कर हमें अपनी बायीं ओर मुड़ना है हम इसके अलावा किसी और दिशा में नहीं मुड सकते
2इस तरह के संकेत हमें ये बताने के लिए लगाये जाते ह अं की हमें अपनी सड़क पर दाहिनी तरफ मुड़ना है आगे चल कर
3ये निशान आपको उन सड़कों पर नज़र आयेंगे जहाँ पर सड़कों पर डिवाइडर की व्यवस्था नहीं होती है इसका मतलब होताहै की आप अपनी बायीं तरह होकर चलें
4ये निशान आपको उन सड़कों पर नज़र आयेंगे जहाँ पर सड़कों पर डिवाइडर की व्यवस्था नहीं होती है इसका मतलब होताहै की आप अपनी दाहिनी तरह होकर चलें
5इस तरह के संकेत हमें ये बताते हैं की आगे चल कर हमें बायीं ओर मुड़ना है
6इस तरह के संकेत हमें ये बताते हैं की आगे चल कर हमें दाहिने ओर मुड़ना है
7सड़क पर जब भी कहीं आपको ये संकेत नज़र आये तो आपको समझ जाना चाहिए की आपको इसी सड़क पर सीधे चलना है कहीं भी मुड़ना नहीं है

हमारी आपकी बातें

दोस्तों हम इस बात की उम्मीद कर रहे है की आपके हर सवाल का जवाब हमने अपने आर्टिकल में दे दिया है और आप इससे संतुष्ट भी है फिर भी अगर हमसे कोई गलती हो गई हो तो हमें आप ज़रूर अवगत करवाएं ताकि हम अपनी गलतियों को सुधार सकें

Traffic Rules in Hindi से सम्बंधित कुछ अन्य F&Q

Q.1 ट्रैफिक नियम कितने प्रकार के होते हैं?

A.1 सड़क पर चलते समय हमें इन नियमों का पालन ज़रूर करना चाहिए
अगर हम पैदल चल रहे हैं तो हमें निर्धारित जगह पर चलाना चाहिए
दो पहिया वाहनों को चलते समय या उनकी सवारी करते समय हेलमेट ज़रूर पहना जाए
अगर हम चार पहिया वहां में सफ़र कर रहे हैं तो सभी यात्रियों को सीट बेल्ट पहनना चहिये
नशे ही हालत में गाड़ी नहीं चलानी चाहिए
भारत में 18 की उम्र के पहले ड्राइविंग लाइसेंस नही दिया जाता और बिना लाइसेंस के गाड़ी नहीं चलानी चाहिए
सड़कों पर अलग अलग तरह के संकेत होते हैं जिनकी जानकरी हमें होनी चाहिए
जहाँ पार्किंग की जगह निर्धारित हो वहीँ व्यवस्थित रूप से अपने वाहनों को पार्क करना चाहिए
जहाँ नो एंट्री हो उस जगह अपने वाहन नहीं ले जाने चाहिए
ऐसी जगह जहाँ से ओवर टेक करना खतरनाक हो वहां सावधान हो जाना चाहिए
सड़कों पर बेवजह हॉर्न नहीं बजने चाहिए
रात में गाड़ी चलते समय हमेशा लो बीम लाइट पर गाड़ी चलानी चाहिए

Q.2 यातायात के तीन नियम कौन से हैं?

A.2 सड़क के किनारे अपने वाहनों को चलाकर दमकल वाहनों और एंबुलेंस को रास्ता दें। जिन चौराहों पर नियमन नहीं है, उन पर पैदल चलने वालों को रास्ता दें। आप जिस लेन में जा रहे हैं उसमें पहले से मौजूद ट्रैफ़िक को रास्ता दें।

Q.3 यातायात का नियम क्या है?

A.3 अकसर देखा गया है की लोग चौक चौराहों पर लगे हुए ट्रैफिक सिंग्लन की अनदेखी कर देते हैं और अपने साथ दूसरों की जान भी जोखिम में डाल देते हैं

Q.4 सड़क का सबसे महत्वपूर्ण नियम क्या है?

A.4 जब हम सड़क पर होते हैं तो हमें सड़क पर चलने के नियमों का पालन करना पड़ता है और सड़क पर चलते समय हमें कई तरह के संकेत नज़र आते हैं जिनको पहचानना और उनका पालन करना हमारे लिए बहुत ज़रूरी है

कैसी लगी आपको हमारी ये जानकारी अगर आपके पास हमारे लिए कोई सुझाव है तो हमें ज़रूर कमेंट करके बताएं !आप अगर लिखना चाहते हैं हमारे ब्लॉग पर तो आपका स्वागत है !

हमसे जुड़े : Facebook | Telegram | Instagram

One Comment on “Traffic Rules in Hindi | Traffic Rules & Signals

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *